जानें क्या खाएं कच्चा, क्या खाएं पक्का

Spread the love

आपने अक्सर लोगों को ये कहते हुए सुना होगा कि कच्ची सब्जियां या फल खाना आग पर पकी हुई चीजें खाने से

ज्यादा फायदेमंद होता है। लेकिन ये बात खाने की हर चीज पर लागू नहीं होती है। कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिन्हें पका कर खाने पर ही उनके पषक तत्व शरीर को मिलते हैं, जब्कि कुछ चीजों को कच्चा खाना ही फायदेमंद होता है। कौन सी खाने के चीजें आग या गैस पर पका कर खानी हैं और कौन सी कच्ची, ये उनके पोषक तत्वों पर निर्भर करता है। तो आइए जानते हैं कि विभिन्न शाकाहारी चीजों को पका कर खाना और उन्हे कच्चा खाना, शरीर पर कितना अलग-अलग असर डालता है।

ब्रोकली


ब्रोकली में फाइबर, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है। लेकिन अगर इसे उबाल कर या फिर भाप में पकाया जाए तो इसके सभी पोषक तत्व और ज्यादा मात्रा में निकलते हैं जो शरीर के लिए अच्छा है। कच्ची ब्रोकली खाने से ‘सुल्फोरफेन’ नाम का तत्व शरीर में पहुंचता है जो कैंसर से लड़ने में मदद करता है। इसलिए अगर कच्ची ब्रोकली खा रहे हैं तो दो कप खाइए और पका कर खा रहे हैं तो एक कप से कम मात्रा बहुत है।

गाजर


एक कप कच्ची गाजर खाना फायदेमंद होता है। वहीं इसे पका रहे हैं तो डेढ़ कप गाजर बहुत है। हालांकि ज्यादातर ऐसा माना जाता है कि गाजर को पकाने से उसके पोषक तत्व कम हो जाते हैं। लेकिन गाजर में ‘बेटा-कैरोटीन’ अधिक मात्रा में मौजूद होता है जो आपकी नजर बेहतर बनाता है और ये तत्व गाजर को पकाने के बाद ही प्राप्त होता है, कच्ची गाजर में नहीं।

READ  नासा ने लॉन्च किया पारकर सोलर प्रोब

अदरक


अदरक सर्दी, जुखाम और गले से जुड़ी परेशानियों के लिए बेहत लाभदगायक होती है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट अच्छी मात्रा में मौजूद होता है। अदरक कच्चे के बजाए पका कर खाना ही ज्यादा फायदेमंद होता है। अगर कच्ची अदरक का सेवन कर रहे हैं तो आपको एक चम्मच चाहिए होगी वहीं पकाने के लिए एक चौथाई चम्मच अदरक बहुत है।

पत्तागोभी


पत्ता गोभी कई तरह से शरीर के लिए लाभदायक है। ये उम्र के बढ़ने की गति को कम करती है, स्किन को अच्छा रखती है और साथ ही दिमाग और आंखों को स्वस्थ रखती है। इसके अलावा ये फाइबर से भरपूर होती है और इसमें मौजूद ‘फोलेट’ तत्व डिप्रेशन, कैंसर और हार्ट की बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। बंद गोभी को कच्चा खाना ही सबसे बेहतर है। इसे पका कर खाएंगे तो सारे पोषक तत्वों के लिए इसे कच्चे के मुकाबले तीन गुना ज्यादा मात्रा में खाना होगा।

ब्रह्म मुहूर्त में जागते थे श्रीराम, जानें फायदे ( Brahma muhurta ke Fayde) , देखें यह वीडियो


हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Spread the love
© Word To Word 2021 | Powered by Janta Web Solutions ®
%d bloggers like this: