बारिश में भी बनी रहेगी ख़ूबसूरती

Spread the love

बारिश में संक्रमण, रोग और त्वचा सम्बन्धी दिक्कतें कई गुना बढ़ जाती हैं। एक ओर जहाँ इस मौसम में तेल स्त्राव की अधिकता के कारण तैलीय त्वचा अधिक तैलीय हो जाती है वहीं निर्जलीकरण के कारण रुखी त्वचा भी नमी खोकर अधिक रुखी हो जाती है। साथ ही इस मौसम में शरीर में विटामिन सी की कमी भी हो जाती है जो त्वचा सम्बन्धी रोगों का कारण बनती है। तो इस मौसम में हमारे दिए टिप्स के साथ बारिश के मौसम में अपनी त्वचा का खयाल रखिए और वर्षा का आनंद उठाइये. कुछ साधारण सावधानियां बरतकर न केवल हम बारिश में त्वचा सम्बन्धी समस्याओं से मुक्त रह सकते हैं बल्कि बारिश का भरपूर आनंद भी ले सकते हैं। आइये, जानते हैं कैसे।

[amazon_link asins=’B006G83ZXO,B00791FR2E’ template=’ProductGrid’ store=’wordtoword-21′ marketplace=’IN’ link_id=’77dd4c58-93dc-11e8-94a3-11a947e5c1af’]

फेसवाश चुनने का सही तरीका

बारिश के मौसम में तैलीय त्वचा को हल्के फेसवाश से 3-4 बार धोने की आवश्यकता होती है। इससे आपकी त्वचा कीटाणुरहित रहती है। इस मौसम में त्वचा पर कठोर उत्पादों का इस्तेमाल से बचें। कठोर उत्पाद त्वचा में तेल के उत्पादन को बढ़ा देते हैं, जिससे त्वचा की ओर कीटाणु आकर्षित होने लगते हैं । स्क्रब का इस्तेमाल करते समय ध्यान रखें कि क्रीमी स्क्रब नहीं, जेल आधारित स्क्रब हो।

मेकअप करने का सही तरीका

बारिश के मौसम में, हल्का और वॉटर प्रूफ मेकअप का इस्तेमाल करें। तेल आधारित मेकअप चेहरे की सतह पर कीटाणुओं को बढ़ावा देते हैं। मेकअप को लेयर में न लगाएँ। बारिश के दिनों के लिए हल्का मेकअप ही उचित है।
बारिश के मौसम में आपकी त्वचा को हल्के मॉइस्चराइजर की आवश्यकता होती है। ऐसे में आप किसी भी जेल आधारित मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल कर सकती हैं। तेल आधारित मॉइस्चराइजर आपके त्वचा के रोम छिद्र को बंद कर देंगे, और त्वचा खुलके सांस नहीं ले सकेगी। रुखी त्वचा वालों को हल्के मॉइस्चराइजर जैसे कि ऐलोवेरा जेल आधारित मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करना चाहिए।

READ  ऐसे होता है ब्लैक होल का जन्म

ऐसे चुने फेसपैक

2 चम्मच ओटमील में पपीता के गुदे के मिला लें। इसमें 1 चम्मच शहद, और 2-3 बूंद नींबू का मिला लें। यह आपके चेहरे को अंदर से साफ़ करता है। साथ ही, यह पैक त्वचा के ऊपरी परत से मृत कोशिकाओं को हटाता है और आपको देता है साफ़, गोरी, निखरी त्वचा। इस मौसम में आपकी त्वचा बेजान और रूखी हो जाती है। त्वचा की ऊपरी सतह तो ठीक रहती है, पर अंदर से वह सारे विटामिन और मिनरल खो देती है। ऐसे में यह फेसपैक आपके त्वचा में एक नयी चमक लेकर आएगा. आप हल्दी, नीम और शहद का पैक लगा सकती हैं। यह आपकी त्वचा को कीटाणुओं से दूर रखेगा, और उसे पर्याप्त मात्रा में नमी देगा।

कैसा हो आपका फेसवाश?

रुखी त्वचा को अधिक धोने की आवश्यकता नहीं है। ऐसी त्वचा में कीटाणु पैदा होने की संभावना और तेल के उत्पादन की मात्रा सबसे कम होती है। ऐसी त्वचा को आप दिन में 1-2 बार हल्के फेसवश से धोएँ।

मिली जुली त्वचा का देखभाल

मिली जुली त्वचा की देखभाल करना थोड़ा कठिन है क्योंकि आपका टी ज़ोन तैलीय और यू ज़ोन सूखा रहता है। आपका फेसवाश ऐसा होना चाहिए जो टी ज़ोन से अधिक तेल के उत्पादन को खींच के निकाले और यू ज़ोन को रुखा-सुखा न बनाए। ओरिफ्लेम का जैंटल 3-in-1 क्लिंज़र कॉम्बिनेशन स्किन के लिए बेहतरीन है। आपकी त्वचा के लिए ऐसा मॉइस्चराइजर उचित रहेगा जो त्वचा को सही मात्रा में पोषण दे। आप निविया लाइट मॉइस्चराइजर और न्यूट्रोजीना ऑइल कंट्रोल मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल कर सकती हैं। ये आपकी त्वचा को पर्याप्त मात्रा में पोषण देंगे और उसे चिप-चिपा भी नहीं बनायेंगे। ऐसे मौसम में आप एक चम्मच चन्दन पाउडर, गुलाब जल और ऐलो वेरा जेल मिला कर लगा सकती हैं। आप मुलतानी मिट्टी और गुलाब जल का फेस पैक भी लगा सकती हैं। 3 चम्मच ओट मील में 1 अंडे की सफ़ेदी, 1 चमच्च शहद और 1 चमच्च दही का पैक लगाना भी कारगर है ।

READ  रात में ही होते हैं सबसे ज्यादा रोड एक्सीडेंट, ये हैं कारण

अन्य टिप्स:

[amazon_link asins=’B00LJOBO7E,B01LW7TRWF,B015U31DAM,B07DNDXQCG’ template=’ProductGrid’ store=’wordtoword-21′ marketplace=’IN’ link_id=’58a86870-93dc-11e8-a25c-df1ab56ab812′]

• बारिश के मौसम में अमूमन लोग सनस्क्रीन नहीं लगाते हैं। उन्हें लगता है कि सनस्क्रीन केवल गर्मी के मौसम में या धूप निकालने पर ही लगाया जाता है, जबकि सच यह है कि बारिश के दिनों में भी आपकी त्वचा उतनी ही टैन और सूर्य की हानिकारक किरणों की शिकार होती है जितना कि गर्मी के मौसम में।

बाहर निकलने के 20 मिनट पहले 50 spf या उससे अधिक वाला सनस्क्रीन ज़रूर लगाएँ। 2-3 घंटे के अंतराल पर सनस्क्रीन दुबारा लगाएँ।

• ऐसे मौसम में जेल वाली सनस्क्रीन लगाना सही रहेगा।

• अपने बालों को बांध कर रखें। जी हाँ, बारिश के मौसम में आपके बाल भी अधिक गंदे होते हैं। ऐसे में अगर आपके बाल बार-बार चेहरे पर आएंगे तो वे आपकी त्वचा को भी कीटाणु का घर बनाएँगे।

• घर से निकलते वक़्त छतरी लिए बिना न निकलें। अगर आप बारिश में भीग जाती हैं, तो घर आकार तुरंत स्नान करें।

• बारिश के मौसम में जूते या बंद चप्पल न पहने। ऐसा करने से आपके पैर की त्वचा सांस नहीं ले पाएगी और उसमें कीटाणु और इन्फ़ैकशन की संभावना बढ़ जाएगी।

• टोनर का इस्तेमाल ज़रूर करें। टोनर आपके चेहरे के कोशिकाओं के अंदर जा कर उन्हें साफ़ करता है, और अंदर ज़मी हुई गंदगी को बाहर निकलता है, जो आपका फेसवाश नहीं निकाल पाता। यह आपके त्वचा को कसाव देता है जिससे गंदगी आसानी से त्वचा में प्रवेश नहीं कर पाती है। साथ ही, आपकी त्वचा पर फुंसी, मुहांसों आदि को फैलने से रोकता है। अकोहोल फ्री टोनर का ही इस्तेमाल करें। यह आपकी त्वचा का ph बैलेन्स बनाके रखता है।

READ  गणित में विराट कोहली को आते थे 3 नंबर, इग्जाम से बचने के लिए किया ये उपाय

• अगर आप रोज़ाना मेकअप लगा कर बाहर जाती हैं, तो वापिस आ कर चेहरे से अच्छी तरह से मेकअप हटा कर ही सोयें। ऐसा नहीं करने से आपकी त्वचा के रोमछिद्र कीटाणुमुक्त नहीं होंगे। साथ ही, आपके चेहरे पर झुर्रियां भी

अधिक होंगी।

• ऐसे मौसम में पसीना बहुत होता है जिससे शरीर में पानी की कमी हो जाती है और चेहरा बेजान हो जाता है।

ऐसे में आपके शरीर को रोज कम से कम 8 ग्लास पानी की ज़रूरत होती है।

• कुछ लोगों को बारिश में स्टीम बाथ लेना बहुत पसंद होता है, पर यह आपकी त्वचा को शुष्क बना देता है।

इसलिए सामान्य तापमान के पानी से ही स्नान लेना बेहतर होता है।

• बारिश में विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थों जैसे टमाटर, शिमला मिर्च, पालक, अमरुद, अन्नानस आदि को

अपने भोजन में ज़रूर शामिल करें।

• तले भुने भोजन से दूर रहें।

ब्रह्म मुहूर्त में जागते थे श्रीराम, जानें फायदे ( Brahma muhurta ke Fayde) , देखें यह वीडियो


हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Spread the love
© Word To Word 2021 | Powered by Janta Web Solutions ®
%d bloggers like this: