मैंने वक्त को बदलते देखा है

मैंने वक्त को बदलते देखा है, कल को आज और आज को कल में बदलते देखा है, तंग गलियों में

Read more

सिर्फ इशारे क्यों दिल भी दो ना

प्रशान्त आर्यवंशी kprashant1920@gmail.com   अब गरीबों से बात कौन करता है ! वो शाह लोग हैं.. मुलाकात कौन करता है

Read more

नारी: तुमसे ही है जीवन गाथा

  नारी तेरे संधर्ष की गाथा, कोई लिख ना पाएगा, जितना भी लिख लो, यह किस्सा अधूरा रह जाएगा। किसी

Read more
© Word To Word 2021 | Powered by Janta Web Solutions ®