सेहत 2 मिनट | डेंगू को दूर रखता है होमियोपैथी | डॉ राजीव वर्मा

Spread the love

हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Episode 33 : डेंगू के बुखार में कई बार लोग इसे सामान्य बुखार समझ कर नजरअंदाज कर देते हैं. लेकिन कई बार डेंगू को लेकर लापरवाही भारी पड़ जाती है. डेंगू पीड़ित व्यक्ति का प्लेटलेट्स काउंट गिरने लगता है. इस मौसम में मादा एडीज इजिप्टी मच्छर के काटने से डेंगू होता है. डेंगू के मच्छर सुबह के समय लोगों को काटते हैं. जुलाई से लेकर अक्टूबर के बीच डेंगू सबसे ज्यादा फैलता है.

डेंगू की पहचान:
1. डेंगू की शुरुआती स्टेज में रोगी में फ्लू जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं.
2. डेंगू के मरीज को तेज बुखार, चकत्ते, शरीर में तेज दर्द, भूख कम होना, उल्टी आना आदि होता है.
3. डेंगू जब अपनी खतरनाक अवस्था में पहुंचता है तो डेंगू हेमरेजिक फीवर (DHF) बन जाता है, जो जानलेवा भी हो सकता है.

इलाज : डेंगू का उपचार होमियोपथी से भी काफी कारगर तरीके से किया जा सकता है. होमियोपैथी में कई ऐसी दवाएं भी हैं, जिनकी मदद से डेंगू को होने से ही रोका जा सकता है. इलाज के बारे में जानने के लिए देखें यह वीडियो.

शादी से पहले करें यह काम, नहीं होगा तलाक, देखें यह वीडियो


हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Spread the love
READ  घर पर बनाये बाजार से 10 गुना इफेक्टिव बॉडी लोशन वो भी आधी कीमत में
Do NOT follow this link or you will be banned from the site! © Word To Word 2019 | Powered by Janta Web Solutions ®
%d bloggers like this: