कौन हैं मेडिसिन का नोबेल जीतने वाले वैज्ञानिक, यहां जानिए

Spread the love

इस साल के नोबेल पुरस्कार का ऐलान हो गया है. फिजियोलॉजी या मेडिसिन में खोज के लिए विलियम जी केलिन जूनियर, सर पीटर जे रैटक्लिफ और ग्रेग एल सेमेंजा को संयुक्त रूप से नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा. इनको कोशिकाओं के ऑक्सीजन ग्रहण पर किए गए खोज के लिए यह पुरस्कार मिलेगा.

नोबेल पुरस्कार समिति ने मेडिसिन के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार के लिए संयुक्त रूप से 3 नामों का ऐलान करते हुए यह ट्वीट किया. कोशिकाओं के काम करने के तरीके और ऑक्सीजन उपलब्धता के ग्रहण करने को लेकर किए खोज पर यह सम्मान तीनों वैज्ञानिकों को दिया जाएगा.

नोबेल पुरस्कार पाने के बाद सर पीटर जे रैटक्लिफ ने इस पर खुशी जताई. जिस समय रैटक्लिफ के नाम का ऐलान किया गया उस समय वह ईयू सिनर्जी ग्रैंट अप्लीकेशन पर अपने डेस्क पर काम कर रहे थे.

कौन हैं ये खोजकर्ता?

अमेरिकी खोजकर्ता विलियम जी केलिन जूनियर का जन्म 1957 में न्यूयॉर्क में हुआ था. उन्होंने दरहम के ड्यूक यूनिवर्सिटी से एमडी की डिग्री हासिल की. उन्होंने बाल्टीमोर के जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी और बॉस्टन के दाना-फार्बर कैंसर इंस्टीट्यूट, से इंटरनल मेडिसिन और ऑन्कोलॉजी में विशेषज्ञ प्रशिक्षण हासिल की.

सर पीटर जे रैटक्लिफ का जन्म इंग्लैंड के लंकाशायर में 1954 में हुआ था. उन्होंने कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के गोन्विले और साइअस कॉलेज से मेडिसिन की पढ़ाई की. उन्होंने ऑक्सफोर्ड से नेफ्रोलॉजी में ट्रेनिंग भी हासिल की है.

ग्रेग एल सेमेंजा भी न्यूयॉर्क के रहने वाले हैं और उनका जन्म 1956 में हुआ. उन्होंने बॉस्टन में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से बॉयोलॉजी में बीए की डिग्री हासिल की. सेमेंजा ने पेन्सिवेनिया यूनिवर्सिटी से एमडी/पीएचडी की डिग्री हासिल की है.

इन उपायों को अपनाएंगे तो दूर रहेगा डेंगू


हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।
READ  क्या सच में सामने आ गयी है अटलांटिस नगरी?

Spread the love

Leave a Reply

Do NOT follow this link or you will be banned from the site! © Word To Word 2019 | Powered by Janta Web Solutions ®