क्रिकेट में लकी चार्म की कहानी है ‘द जोया फैक्टर’, यहाँ पढ़िए पूरी कहानी

Spread the love

द जोया फैक्टर आज बॉक्स ऑफिस पर रिलीज हो गई है. क्रिकेट फैक्टर को लेकर बनीं इस फिल्म में सोनम कपूर को लकी चार्म के तौर पर पेश किया गया है.  फिल्म की कहानी जोया नाम की एक लड़की के इर्द-गिर्द घूमती है, जिसका जन्म उस दिन हुआ था, जब इंडिया ने 1983 में क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता था. जोया को उसका परिवार क्रिकेट के लिए लकी मानता है, लेकिन जब टीम इंडिया उसे लकी मैस्कॉट के तौर पर साइन करती है, तब हालात हाथ से बाहर हो जाते हैं. इस बीच टीम के कप्तान निखिल खोड़ा यानी दिलकर सलमान और ज़ोया एक दूसरे की मुहब्बत में गिरफ्तार हो जाते हैं. और यहां से शुरु होती है इनकी लव स्टोरी और जोया फैक्टर का सिलसिला भी.

कहानी

‘द जोया फैक्टर’ की कहानी की शुरूआत में मुंबई की जोया (सोनम कपूर) के जन्म से शुरु होती है. ट्रेलर की तरह फिल्म की कहानी की शुरूआत 1983 में हुए क्रिकेट वर्ल्ड कप में जब भारत की जीत होती है तब जोया का जन्म होता. ऐसे में कीको उसके पिता (संजय कपूर) और भाई (सिकंदर खेर) बेहद लकी मानते हैं. ऐसा इसलिए कहते हैं क्योंकि जब ज़ोया का जन्म हुआ था तब इंडिया ने क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता था. फिल्म जैसे जैसे आगे बढ़ती है ठीक वैसे वैसे ही नए नए ट्विस्ट जुड़ते जाते हैं. एक समय आता है जब क्रिकेट विश्व कप शुरु होने से पहले जोया को पूरी धूमधाम के साथ बतौर ‘लकी चार्म’ प्रमोट किया जाता है. वह जोया से जोया देवी बन जाती है. लेकिन जोया जल्द ही इस ‘देवी’ इमेज से बाहर निकलने के लिए छटपटाने लगती है. अब ऐसे में जोया की ज़िंदगी क्या करवट लेती है और वह क्या फैसला करती हैं यह फिल्म का क्लाइमेक्स है.

READ  भारत में सलमान की मां का रोल निभाने वाली यह ऐक्ट्रेस हैं उनसे 9 साल छोटी

यह फिल्म अनुजा चौहान की किताब ‘द जोया फैक्टर’ पर आधारित है. कहानी भले ही धीमी रफ्तार से चलती है लेकिन बोर नहीं करती. क्रिकेट के फैन्स को यह फिल्म जरूर पसंद आयेगी.

इन उपायों को अपनाएंगे तो दूर रहेगा डेंगू


हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Spread the love
Do NOT follow this link or you will be banned from the site! © Word To Word 2019 | Powered by Janta Web Solutions ®