चेहरे के साथ गले को भी निखारें, अपनाइए ये टिप्स

Spread the love

खूबसूरत दिखने के लिए चेहरे की देखभाल के चक्कर में ज्यादातर लोग गर्दन को भूल जाते हैं. नतीजा, गर्दन और चेहरे की रंगत अलग-अलग हो जाती है. अपने ब्यूटी रुटीन में आप क्या करती हैं? क्लींजिंग, स्क्रबिंग, टोनिंग आदि. अलमारी का एक खाना महंगे उत्पादों से भरा भी हो सकता है. लेकिन ये सब सिर्फ चेहरे के लिए? अपनी त्वचा और खूबसूरती की देखभाल के लिए क्या सिर्फ इतना काफी है? थोड़ी-सी देखभाल से आप गर्दन की खूबसूरती निखार सकती हैं:

शरीर के अन्य भागों से गर्दन कुछ अलग होती है, वो इसलिए, क्योंकि इसके सेल्स शरीर के बाकी सेल्स जैसे नहीं होते. यहां की खाल बेहद पतली होती है और इसमें सिकुड़न जल्दी आ जाती है. यहां कॉलेजन अधिक मात्रा में मौजूद नहीं रहता और यहां झुर्रियां जल्दी आने लगती हैं. यहां मौजूद मांसपेशियां किसी हड्डी से जुड़ी नहीं होती हैं, इस कारण यहां का मांस जल्दी लटकना भी शुरू हो जाता है. ये सब देर से हो, इसके लिए जरूरी है कि गर्दन की देखभाल कम उम्र से ही शुरू कर दी जाए.

कसरत से आएगा कसाव
गले के कसाव के लिए कुछ खास तरह  के व्यायाम आपकी मदद कर सकते हैं. इसके लिए आपको अपने व्यायाम में गर्दन की स्ट्रेचिंग को शामिल करना होगा, जिन्हें आपको दिन में एक या दो बार करना होगा. इसके अलावा कुछ खास योगासन भी गर्दन की त्वचा में कसाव लाने में मददगार साबित होंगे. इनमें गर्दन को आगे-पीछे और दाएं से बाएं मोड़ना शामिल है.
गलत तरीके से किया गया व्यायाम आपकी गर्दन में झटका ला सकता है, इसलिए इन्हें अच्छी तरह से समझकर ही करना चाहिए.

READ  मैरी कॉम के पंच से खुद को कुछ ऐसे बचाया खेल मंत्री किरण रिजीजू ने

गले का मेकअप करना और उतारना दोनों जरूरी
अगर आप बाहर से मेकअप कराती हैं तो गौर किया होगा कि आपकी गर्दन पर भी फाउंडेशन लगाया जाता है. ऐसा इसलिए कि आपकी गर्दन चेहरे के रंग से अलग न दिखे. घर पर मेकअप करते वक्त भी आपको इस बात का ख्याल रखना जरूरी है. बीबी या सीसी क्रीम लगा रही हैं तो भी उसे गर्दन पर जरूर लगाएं. मेकअप लगाने के बाद उसे उतारना भी जरूरी है. कई बार आप आलस और थकान के चलते और कभी-कभी नासमझी में केवल चेहरे का ही मेकअप उतारती हैं और गर्दन को भूल जाती हैं. ऐसा करना गर्दन के रोमछिद्रों को बंद कर देता है और गर्दन की त्वचा रूखी व बेजान दिखने लगती है.

चेहरे के साथ गले की भी नियमित देखभाल

अपने ब्यूटी रुटीन में आप जो देखभाल चेहरे की करती हैं, वैसी ही देखभाल गर्दन की भी करें. क्लींजिंग, स्क्रबिंग, टोनिंग, मॉइस्चराइजिंग की जरूरत गर्दन को भी चेहरे जितनी ही है. सामान्यत: आप चेहरे पर लगाए जाने वाले उत्पाद ही गर्दन पर लगा सकती हैं, लेकिन यदि समस्या ज्यादा है तो बाजार में खास गर्दन की देखभाल के उत्पाद भी मौजूद हैं. इन्हें आप किसी जानकार के सुझाव के बाद खरीद सकती हैं. अगर सनस्क्रीन लगा रही हैं तो गर्दन पर भी जरूर लगाइए. ब्यूटी रुटीन को चेहरे और गर्दन पर समान रूप से लागू करने से दोनों जगहों की त्वचा की रंगत में ज्यादा अंतर नहीं रहेगा.

ताकि काली न पड़े गर्दन
गर्दन का काला पड़ना एक आम समस्या है. इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं, जिनमें हार्मोन्स में बदलाव, सूरज की रोशनी में अधिक रहना, मोटापा, खराब हाइजीन, केमिकल युक्त कॉस्मेटिक, प्रदूषण या कुछ त्वचा संबंधी समस्या हो सकती है. कई बार गर्दन का कुछ खास तरीकों से काला पड़ना आपकी सेहत संबंधी समस्याओं की ओर इशारा करता है. इसके लिए आपको चिकित्सीय मार्गदर्शन की जरूरत पड़ेगी. लेकिन सामान्य तौर पर काली पड़ने वाली गर्दन का उपचार आप घर पर ही कर सकती हैं.

READ  नवरात्र विशेष : ऐसे करें माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा

इसके लिए तरबूज और शहद के मिश्रण से गर्दन में मसाज करें. विटामिन-ई युक्त क्रीम लगाने से भी राहत मिलेगी. रात में सोने से पहले इस क्रीम से मालिश करें. दूध में केसर डालकर लगाने से कुछ ही हफ्तों में कालापन दूर होगा और त्वचा को नमी भी मिलेगी. ’एपल साइडर विनिगर में थोड़ा पानी मिलाकर उसमें रुई भिगोकर गर्दन पर रगड़ें. टैन, धब्बे और डेड स्किन से निजात मिलेगी. हल्दी और गुलाब जल को मिलाकर लेप लगाने से भी गर्दन की खूबसूरती में निखार आएगा.


हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© Word To Word 2019 | Powered by Janta Web Solutions ®