कौन हैं वीके यादव जिनको रेलवे के इतिहास में पहली बार बनाया गया है बोर्ड का सीईओ

Spread the love

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वी के यादव को बोर्ड का सीईओ बनाया गया है. रेलवे के इतिहास में वह इस तरह का पद संभालने वाले पहले व्यक्ति हैं. मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने उनकी नियुक्ति को मंजूरी दे दी है. इससे पहले मंत्रिमंडल ने रेलवे बोर्ड के पुनर्गठन को मंजूरी दी थी. इसके सदस्यों की संख्या 8 से घटाकर 5 कर दी गई है.
कैबिनेट के फैसले को मंजूरी देते हुए अपॉइंटमेंट कमेटी ऑफ द कैबिनेट (एसीसी) ने बताया कि रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अब सीईओ कहलाएंगे. इस तरह बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव भारतीय रेलवे के नए सीईओ के रूप में अपना काम जारी रखेंगे.

इन पदों पर रह चुके हैं –

विनोद यादव 1980 बैच के इंडियन रेलवे सर्विस ऑफ इलेक्ट्रिकल इंजीनियर्स हैं. इससे पहले कैबिनेट की नियुक्ति समिति (एसीसी) ने विनोद कुमार यादव के रेलवे बोर्ड के चेयरमैन के रूप में एक वर्ष के लिए (1 जनवरी, 2020 से प्रभावी) पुनर्नियुक्ति को मंजूरी दे दी थी.

इसके पहले 1 जनवरी, 2019 को विनोद कुमार यादव को रेलवे बोर्ड के चेयरमैन तथा भारत सरकार के पदेन मुख्य सचिव के रूप में नियुक्त किया गया था. इसके पूर्व यादव दक्षिण-मध्य रेलवे के महाप्रबंधक के पद पर थे.

अपने कार्यकाल के दौरान विनोद कुमार यादव भारतीय रेल में और प्रतिनियुक्ति पर अन्य संगठनों में विभिन्न महत्वपूर्ण कार्यकारी एवं प्रबंधन के पदों पर रहे हैं. विनोद कुमार यादव उत्तर रेल में मुख्य विद्युत इंजीनियर, नीति-निर्माण/कर्षण वितरण; उत्तर-पूर्वी रेल के लखनऊ मंडल में मंडल रेल प्रबंधक; और उत्तरी रेलवे के दिल्ली मंडल में अवर मंडल रेल प्रबंधक (संचालन) के पदों पर रहे हैं.

ब्रह्म मुहूर्त में जागते थे श्रीराम, जानें फायदे ( Brahma muhurta ke Fayde) , देखें यह वीडियो


हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Spread the love
© Word To Word 2021 | Powered by Janta Web Solutions ®
%d bloggers like this: