प्राचीन ममी ने खोला सौतेले भाइयों का रहस्य

Spread the love

ब्रिटेन के मैनचेस्टर संग्रहालय के इजिप्टोलॉजी कलेक्शन में यह ममी सबसे पुरानी है. अगली पीढी के डीएनए सीक्वेंसिंग की मदद से आखिर वैज्ञानिकों ने पता लगा ही लिया कि यह ममी दो सौतेले भाइयों की है जिनके पिता अलग अलग थे. इन दोनों भाइयों की ममी ने काफी सुर्खियाँ बटोरी हैं. ये दोनों भाई साभ्रांत परिवार से ताल्लुक रखते थे और इनके नाम खनम नख्त और नख्त अंख थे. इन ममियों की खोज 1907 में ही हुई थी तभी से यह बहस छिड़ी हुई थी कि इन दोनों का आपस में कोई सम्बन्ध था या नहीं. दोनों भाइयों के मकबरे की पूरी सामग्री 1908 में मैनचेस्टर ले जाई गयी और ईजिप्टोलॉजिस्ट मारग्रेट मरी ने इसकी जांच कर बताया कि दोनों कंकाल की बनावट काफी अलग है अतः ये एक दूसरे के संबंधी नहीं हो सकते. बाद में 2015 में उनके दांतों से लिए गए डीएनए और सीक्वेंसिंग की अगली पीढी की प्रक्रिया से पता चला कि इन दोनों में माता पक्ष की तरफ से कोई सम्बन्ध था.जबकि पिता अलग थे जिससे इनके सौतेले भाई होने की पुष्टि हुई.

ब्रह्म मुहूर्त में जागते थे श्रीराम, जानें फायदे ( Brahma muhurta ke Fayde) , देखें यह वीडियो


हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Spread the love
READ  कुतुबमीनार जितना ऊंचा कूड़े का ढेर बना दिल्ली का गाजीपुर
© Word To Word 2021 | Powered by Janta Web Solutions ®
%d bloggers like this: